• Sun. Jun 16th, 2024

लंबे समय से पुलिस की रडार पर था आरोपी, अब जाकर मिली सफलता )

Byadministrator

Jun 8, 2024

 

हरिद्वार पुलिस से बचने के लिए अपनी सभी संपत्ति बेचकर नेपाल में छुपा था आरोपी लेकिन हरिद्वार पुलिस से बच नहीं पाया

एस एस पी हरिद्वार ने कहा कि हम ऐसे पुराने सभी मामलों को रिव्यू कर रहे हैं और एक-एक कर अपराधियों को जेल भेज रहे हैं, गलती की है तो जेल जाना ही होगा,दिनांक 13 जनवरी वर्ष 2016 को रियाजुल पुत्र फजूल अहमद निवासी मजाहिदपुर सतीवाला द्वारा उसकी 14 वर्षीय नाबालिक बहन को बहला फुसलाकर भगा ले जाने के संबंध में अभियुक्त सन्दीप गिरी पुत्र राजेन्द्र गिरी निवासी ग्राम रामपुरवा थाना मुफसील जिला बेतिया बिहार के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया गया था। जिसकी विवेचना उप निरीक्षक गजेन्द्र सिंह द्वारा संम्पादित की गयी।एसएसपी के कड़े निर्देशन में समय-समय पर पुराने मामलों का रिव्यू किए जाने के दौरान अधीनस्थ अधिकारियों द्वारा बताया गया कि थाना बुग्गावाला टीम द्वारा लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। आरोपी की गिरफ्तारी हेतु गठित पुलिस टीम द्वारा कई बार अभियुक्त के पते रामपुरवा थाना मुफसिल जिला वेतिया बिहार में दबिश दी गयी तो अभियुक्त अपने गांव वेतिया बिहार की अपनी सम्पत्ति बेच कर नेपाल चला गया और वहीं रहने लगा तत्पश्चात पुलिस टीम द्वारा सातवीं पास अभियुक्त संदीप के गांव रामपुरवा बिहार एवं हरिद्वार, दोनों जगह मुखबिर तन्त्र को सक्रिय करते हुए अभियुक्त की गतिविधियों के बारे में लगातार जानकारी हासिल की गई और क्लोज वॉच किया गया।हरिद्वार पुलिस द्वारा लंबे समय से तलाश की जा रही थी मेहनत के फलस्वरूप दिनांक सात जून 2024 को पुलिस टीम को सूचना प्राप्त हुई कि अभियुक्त अपने किसी कार्य हेतु उत्तराखण्ड आ रहा है इस पर पुलिस टीम द्वारा पता करते हुये दिनाँक आठ जून 2024 को रुड़की रेलेवे स्टेशन से पचास हजार के ईनामी आरोपी सन्दीप गिरी उपरोक्त को धर दबोचा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *